श्वास तंत्र की बीमारियाँ(Diseases of the Respiratory Organs)

श्वास तंत्र की बीमारियाँ(Diseases of the Respiratory Organs)



श्वास नली के प्र्दाहित होने से सर्दी हो जाया करती है| जब केवल नाक की श्लेश्मक झिल्लियों में प्रदाह होता है तो सर्दी होती है और जब नाक और गले दौनों में सर्दी लगे तो सर्दी बुखार हो जाता है| 

कारण- वर्षा में भीगना, ओस या सर्दी लगना, देर तक भीगे कपडे पहने रहना, एकाएक पसीना बंद हो जाना, बदहजमी आदि|

लक्षण- शरीर में सुस्ती, बदन में अंगडाई, जम्हाई आना, सर में दर्द या भारीपन, आँखें लाल, छींकें आना, आँखों से पानी आना, खांसी बुखार, भूख कम हो जाना आदि|

रोगी की पहली अवस्था-

लक्षण- 

* ख़ास कर जब सुखी ठंडी हवा से रोग हो, ठंडक महसूस हो, सर दर्द आँखों से पानी, छींकें आना, सूखी खांसी, बार बार बेचैनी तथा भय, रोगी को खुली हवा में अच्छा लगे- 

एकोनाईट 30(Aconite Napellus 30 CH)

, 3 से 4 बार दिन भर में दे 

सर्दी के कारन लगातार छींकें आना, नाक से बहुत ज्यादा पानी, सर दर्द खांसी, आवाज बेठी हुयी 

एलियम सीपा 30(Allium Cepa 30 CH

, 2-3 घंटे के अन्तराल से दें|

* नाक से जख्म कर देने वाला स्त्राव, आँख व नाक में जलन , बेचैनी, थोड़ी थोड़ी देर में थोडा थोडा पानी पीने की  इच्छा, कमजोरी, बुखार व सर में दर्द सभी लक्षण गर्मी व गर्म चीजों के उपयोग से घटते है| 

आर्सेनिक एल्बम 30, 3 से 4 खुराक दिन भर में दें 

* बहने वाला जुखाम, आँखों में हर समय जलन पैदा करने वाला स्त्राव, बेचैनी, चेहरा गर्म परन्तु रोगी ठंडा रहता है| ठण्ड लगती है, गर्म कमरे में व शाम को रोग बढता है|

युफ्रेशिया 30(Euphrasia Officinalis 30 CH)

, 2 से 3 घंटे के अंतर से दें 

* छींकों के साथ नाक बहना, माथा लाल, दर्द भरा और आँखों से पानी 

सैबाडीला 30(SBL Sabadilla 30 CH)

3 से 4 खुराक दिन भर में 

* जलन युक्त स्त्राव इतना कि उपरी होंठ भी कट जाए, नाक स्त्राव से भरी होने के कारण रोगी को सांस भी मुंह से लेनी पड़े| 

औरम ट्रीफाइलम(Arum Triphyllum 30 CH)

 30 दिन में 3-4 बार दें 

* गले और सर में दर्द, चेहरा तमतमाया हुआ नींद गायब, खांसी जुखाम 

बेलाडोना 30(Belladonna 30 CH)

, दिन में 3-4 बार 

* कमर में ठण्ड, सर में खिचांव या भारीपन, छींकें, नजला, शरीर में सुस्ती, ठण्ड के साथ जोर का पेशाब जिससे सर हल्का हो जाता है| मौसम परिवर्तन के समय होने वाले जुखाम कि ख़ास दवा-

जेलसीमियम 30 दिन में 3-4 बार  Gelsemium Sempervirens 30 CH

* छींकें व नजला, आवाज बेठी हुयी| छाती में दर्द| मासपेशियों व हड्डियों में अत्यधिक दर्द|

खांसी रात में बढती है| 

यूपेटेरियम पर्फ 30 दिन में 3-4 बार  Eupatorium Perfoliatum 30 CH

बायोकेमिक मिश्रण नंबर 5 अथवा फेरम फ़ास 6x,  4-4 गोली हर दो घंटे के बाद गर्म पानी से दें 

एविना सटाइवा क्यू गर्म पानी में 20 बूँद कि एक खुराक दिन में तीन बार लेने से शीघ्र आराम आता है| सोते समय गर्म पानी से पैर धोकर सोने से भी आराम मिलता है| 


0 views
  • RSS
  • Instagram
  • Twitter
  • Facebook - Black Circle

Certified by Department of Food Safety and Drug Administration

Under Food Safety and Standards act 2006 (See Regulation 2.1.1(5))

FSSAI Reg No.:22720559000034

GST No: 09ANVPK7807K1Z5

©2019 by HomeoHerb. Proudly created with Wix.com